शादी में भाई की साली को चोदा

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Jan 8, 2017.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    128,569
    Likes Received:
    2,127
    http://raredesi.com हेलो दोस्तों यह बात तब की हे जब मेरे भाई की शादी तय हुई. हम लोग जब लड़की देखने के लिए गये थे तब मुझे मेरे भाई की साली पसंद आ गयी थी. मैने उसे लाइन देनी शुरू कर दी पहले तो उसने मुझे जरा भी घास नहीं डाली लेकिन थोड़ी देर में वह भी मुझे लाइन देने लगी.

    फिर उसके बाद मैने वापस जाने से पहले उसे प्रपोज किया और उसने उसे स्वीकार भी कर लिया था.

    अरे में तो आप को उसके बारे में बताना भूल ही गया. उसका नाम शालू हे उसका रंग एकदम गोरा हे और हसमुख हे और उसके बड़े बड़े बुबे हे. और में आप लोगो को बता नहीं सकता की वह कितने सॉफ्ट सॉफ्ट हे और उसका फिगर ३४-२८-३६ था, में क्या बताऊ दोस्तों उसे याद करने के बाद मेरा लंड एकदम खड़ा हो जाता हे.

    फिर मै उसको किस करने के लिए आगे बढ़ा पर उसने मुझे रोक लिया और कहां की अभी थोड़े टाइम रुको. फिर मैने भी उसके साथ कोई जोर जबरजस्ती नहीं की और हमने एक दुसरे के नंबर ले लिए थे और हम अब डेट करने लगे और वह मुझे डेट पर तिन बार किस कर चुकी थी.

    हमारे यहाँ पर शादी से पहले गोद भाराई की रस्म होती हे और जब वो रस्म चल रही थी तब में शालू को ऊपर टेरेस पे ले गया और उसे किस करने लगा. और हम ने करीब २० मिनिट तक किस किया और क्या बताऊ दोस्तों उसके ओठ इतने रसीले थे की २० मिनिट तो कब निकल गये मुझे कुछ भी पता नही चला.

    उसके बाद हम एक साथ बेठ गये और में उसे सहला रहा था तो में उसे सहलाते सहलाते उसकी चूत पर हाथ रख दिया. उसने स्कर्ट पहनी थी और उसकी पेंटी भी गीली हो चुकी थी. और मैने हाथ रखने की वजह से उसे मजा नहीं आया और वह डरने लगी थी और उसने मेरा हाथ हटा दिया पर मैने उसे उस समय कुछ भी नही कहा पर में भी उसकी लिए बिना कहा मानने वाला था. मैने उसे किस करना चालू कर दिया और उसके बूब्स को दबाने लगा और उसे ऊपर से चूसने लगा.

    यह सब करीब ३० मिनिट तक चला फिर हम एक एक करके निचे चले गए और फिर वो दिन आ ही गया जब हम कुछ दिनों तक साथ रहे और वह शादी का दिन था.

    तो जब हम हमारी शादी के वेन्यु राजस्थान जयपुर पहुचे तब वह भी वह आ चुकी थी. उसने मुझे देख कर एक नोटी स्माइल दी. में भी उसे देख कर बहोत खुश हुआ और मुझे तो मानो राहत सी मिल गयी थी उसे देख कर

    अब हमारा स्वागत हुआ और खाना पीना भी हुआ. फिर मैने शालू को इशारा करते हुए अलग से मिलने को बोला. उसने मुझे अपने रूम में बुला लिया. वहा पर उसकी और एक बहन थी और वह भी बहोत सुंदर थी उसका फिगर ३४-३०-३४ होगा और हम लोग बाते करने लगे.

    थोड़ी देर में शालू की सिस्टर हिमांशी वहा से उठ कर चली गई. मैने एक दम से गेट लोक कर दिया और शालू को बेड पर लेटा कर उसे किस करने लगा. फिर हम शादी के दिन तक रोज मिलते और किस करते और शादी वाले दिन जब फेरे हो रहे थे तब मैने उसे बुलाया और कहा की मुझे कुछ बात करनी हे अपने कमरे में या टेरेस पे चलो तो उसने कहा की कमरे में चलो सब लोग यहाँ हे वहा पर कोई नही आयेगा.

    फिर हम कमरे में गये मैने उसे किस किया उसके बूब्स को चूसा और फिर निराश होकर बैठ गये. उसने कहा की क्या हुआ आप निराश क्यों लग रहे हे. तो मैने कहा की कल हम चले जायेंगे और फिर ये सब करना बंद हो जायेगा. उसने कहा कोई बात नहीं हम डेट में कहा हे ये तो हे पर इस तरह थोड़ी होगा और मैने उसे भी बेड पर बिठा दिया और उसे गले लग कर जुठ मुठ का रोने लगा और वह भी इमोशनल हो गयी.

    फिर मैने उसे लिटा दिया और उसकी चूत पर हाथ रखा पहले उसने हाथ को हटा दिया पर बाद में वह भी साथ देने लगी और मेरे लंड को सहलाने लगी. मैने उसके कपडे उतार दिए और मेरे भी उतार दिए. और उसे नंगा देख कर तो मुझे जेसे की करंट लग गया था. मैने सीधा उस के बूब्स को चुसना शुरू कर दिया और वह तो इतने में ही जड़ चुकी थी. फीर मैने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया और में १० मिनिट तक चाटता रहा और फार वह एक बार फिर जड गयी और मैने उसका सारा का सारा रस पि लिया.

    फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अब तुरंत उसके दोनों पैरों को ऊपर करके उसकी चूत पर लंड रख दिया और एक ज़ोर से झटका दे दिया जिसकी वजह से वो एकदम से चीख पड़ी आआहह उफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ प्लज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़ बाहर निकालो आईईईईइ मुझे बहुत दर्द हो रहा है. और वह वर्जिन थी तो खून भी निकल गया.

    वो खून देख कर डर गई. पर मुझे पता था इसीलिए मैने बेड पर प्लास्टिक शिट पहले ही बिछा दी थी. मैने अपना लंड नहीं निकाला अब वो बहुत ही ज़ोर से मोनिंग करने लगी में ऐसे ही उसे लगातार धक्के देकर चोदने लगा और उसके बूब्स को भी दबा रहा था और फिर कुछ देर बाद मैंने उसे डॉगी स्टाइल में बैठाकर कुतिया की तरह ताबड़तोड़ धक्के देकर चोद रहा था और इस बीच मैंने उसकी गांड पर चांटा मारा तो वो एकदम से उछल गई और मोनिंग करने लगी. अब उसकी चूत का पानी निकलने वाला था इसलिए मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा था वो भी नीचे से धक्के देकर मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी.

    अब वो ऐसे मोनिंग कर रही थी जैसे उसका पानी निकल गया हो और मैंने भी अपनी स्पीड को बड़ा दिया क्योंकि अब मेरा भी वीर्य निकलने वाला था. मैंने एक ज़ोर का झटका दिया और मैंने मेरा सारा वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया और हम दोनों ऐसे कुछ देर लेटे रहे. मैने उस वक्त कंडोम का इस्तेमाल किया था.

    फिर हम थोड़ी देर उसी पोजीशन में रहे और फिर मैने अपना लंड निकाला. शालू को उठाया आयर खुद को साफ़ करने को बोला और कंडोम भी फ्लश करने को बोला.

    फिर हमने कपडे पहने और किस की और फिर बहार चले गए तब तक भाई के फेरे भी हो चुके थे.
     
Loading...

Share This Page