बॉस की बीवी के साथ रोमांस

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Mar 2, 2018.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    138,636
    Likes Received:
    2,209
    http://raredesi.com हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम antarvasna विवेक है और मेरी उम्र 29 साल है मैं मुम्बई का रहने वाला हूँ मेरे लंड का साइज़ 7.5 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा है, मेरी हाइट 5.8 इंच है, मेरी बॉडी काफ़ी सुन्दर है मतलब दिखने में हैंडसम हूँ और मैं एक फैक्ट्री में जॉब कर रहा हूँ। मैं कामलीला डॉट कॉम का बहुत बड़ा फैन हूँ और मैंने इस साईट की काफ़ी सारी स्टोरी पढ़ी है अब मैं आपको ज़्यादा बोर ना करते हुए सीधा अपनी सेक्स स्टोरी पर आता हूँ ये मेरी पहली सेक्स स्टोरी है।

    मेरी यह कहानी आज से 3 साल पहले की है जब मैं पढ़ाई खत्म करके एक छोटी सी कंपनी में जॉब करता था, और मैंने जब अपनी पढ़ाई खत्म की ही थी तब मैं एक फैक्ट्री में जॉब कर रहा था, वहां मेरा एक बॉस था जिसका नाम अनिल था, उसकी उम्र करीब 42 थी वो बहुत गरम स्वाभाव का था उनके सामने बोलने की किसी में हिम्मत नहीं थी। करीब 2 महीने ही हुये थे मुझे वहां जॉब लगे, एक दिन मैं दोपहर को 2 बजे अपने कैबिन में बैठा हुआ था तभी बॉस आए और मुझे बोले की यह एक फाइल है उसमे मेरी पत्नी के साइन करवाने है तो तुम जल्दी से मेरे घर जाकर साइन करवाकर के फाइल लेकर वापस आ जाओ। मैं कभी उनके घर पर गया नहीं था तो उसने मुझे घर का पता दिया और मैं बॉस की कार लेकर निकल गया, घर पर जाकर मैंने दरवाज़े की घंटी बजाई और थोड़ी देर खड़ा रहा तो कोई आया नहीं बाहर, फिर जैसे मैं दूसरी बार बेल बजाने लगा तो दरवाज़ा खुला और जैसे ही मैंने उनको देखा तो मैं देखता ही रह गया, अंदर से एक खूबसूरत औरत बाहर निकलकर आई जिसकी उम्र करीब 39 साल होगी पर दिखने में वो 30 साल की लगती थी। उसने एक गाउन पहना हुआ था उसका फिगर 36-28-36 साफ दिखाई दे रहा था फिर मैंने अपने आपको संभाला और कहा मेमसाहब इसपर आपको कुछ साइन करने है सर ने मुझे भेजा है तो उसने मुझे अंदर बुलाया और मेरे लिए ठंडा पानी लेकर आई, जैसे ही वो साइन करने के लिए नीचे झुकी तो मेरा ध्यान सीधा उनके बूब्स पर पड़ा और मेरा लंड टाइट होने लगा।

    मेरी नज़र उनके बूब्स पर से हट नहीं रही थी यह बात भी उन्होंने नोटीस की, फिर मैं वहां से चलने लगा तो उसने कहा की फैक्ट्री में काम करते हो? तो मैंने कहा हाँ, तो उसने मुझे कहा की तुम्हारा नाम क्या है तो मैंने अपना नाम बताया और उनसे पूछा तो उसने उनका नाम मनीषा बताया फिर कुछ दिन तो ऐसे ही बीत गये और एक दिन किसी रोंग नंबर से फ़ोन आया तो मैंने उठाया तो सामने से आवाज़ आई कैसे हो? मैंने कहा ठीक हूँ पर आप कौन? तो उसने बताया की इतनी जल्दी भूल गये? मैंने कहा नहीं पहले आपकी आवाज़ नहीं सुनी है ना इसलिए, फिर उसने बताया की मैं मनीषा बोल रही हूँ तो मैंने कहा जी बोलिए मेमसाहब आज कैसे याद किया? तो उसने बताया की मेरा लैपटॉप खराब हो गया है तो मैंने आपके सर को बोला था और सर अभी 2 दिन बाहर गये हुये है तो उसने कहा की मैं जो नंबर देता हूँ तुम उससे बात करके बुला लो, तो मैंने आपको कॉल किया है, क्या आप आ सकते हो अभी घर पर? मैंने कहा हाँ बस 30 मिनट में आ रहा हूँ और मैं उनके घर चला गया, मैंने देखा की मेम आज कुछ अलग ही मूड में है और उसने काले कलर का गाउन पहना हुआ है और उसमे से उनकी वाइट कलर की ब्रा और पेंटी साफ नज़र आ रही है, वो बहुत ही सेक्सी लग रही थी मैंने कहा की क्या हुआ है लैपटॉप को, तो उसने कहा की स्टार्ट नहीं हो रहा है तो मैं चेक करने लगा पर मेरी नज़र उनके बूब्स पर थी तो उसने कहा की तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? मैंने कहा नहीं क्यों? तो उसने कहा की क्यों नहीं है, तो मैंने कहा की अभी तक कोई मिली ही नहीं है जैसी मुझे चाहिए, तो उसने कहा की कैसी चाहिए तुझे? तो मैंने कहा आपके जैसी हॉट और सेक्सी, उसने कहा की सच में मैं इतनी खुबसुरत हूँ? मैंने कहा हाँ तो उसने कहा की कभी सेक्स किया है तुमने? तो मैंने कहा नहीं कभी नहीं किया, तो उसने कहा की क्या तुम मेरे साथ करना चाहोगे, तो मैं थोड़ी देर चुप रहा और अचानक उनके होठों को अपने होठों में दबाकर किस करने लगा।

    फिर मैंने उनके बूब्स को भी दबाना शुरु किया, फिर उसने मेरे लंड को पेंट के ऊपर से ही सहलाने लगी, फिर मैंने उनके गाउन को निकाला अब वो सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी मैंने उनकी ब्रा भी खोल दी और ज़ोर ज़ोर से उनके बूब्स को चूसने लगा कभी कभी उनसे बातें भी कर रहा था तो वो भी जोश में आ रही थी फिर उसने मेरे कपड़े उतार दिए और मेरे लंड को हाथ में पकड़कर सहलाने लगी और बोलने लगी मैंने कभी इतना बड़ा लंड देखा नहीं है, तुम्हारे बॉस तो ठीक से कर भी नहीं पाते है, तो मैं तो तब से ही तुमसे चुदवाना चाहती थी जब से तुम्हें देखा था, फिर मैंने भी उनको नंगा किया और हम दोनों 69 की पोज़िशन में आ गये, उनकी चूत का टेस्ट बहुत ही मीठा लग रहा था, वो भी मेरा लंड बड़े प्यार से चूस रही थी करीब 10 मिनट के बाद उसने कहा की अब नहीं रहा जाता तो मैंने उनकी चूत पर लंड रखा और ज़ोर से धक्का मारा तो मेरा आधा लंड उनकी चूत में चला गया और वो चिल्लाने लगी और बोलने लगी प्लीज जान धीरे धीरे करो बहुत दर्द हो रहा है फिर मैंने थोड़ी देर धीरे धीरे धक्के मारना शुरु किया और उनके बूब्स को भी दबाने लगा। फिर उनको भी मज़ा आने लगा तो वो ऊपर नीचे होने लगी तो मैं समझ गया की वो अब मूड में आ चुकी है तो मैंने फिर से एक जोरदार धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड उनकी चूत में चला गया। दोस्तों यह सेक्स स्टोरी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

    अब वो आअहह.. उउहह. उईइ. सिसकियां लेने लगी और उछल उछलकर चुदवाने लगी। करीब 15 मिनट बाद में नीचे आया और उसने मेरे ऊपर आकर मेरा लंड अपनी चूत में सेट किया और उसके ऊपर उछलने लगी मैं उनके बूब्स को दबाने लगा और कभी कभी बातें भी करने लगा करीब 10 मिनट बाद वो थक गयी और मैंने उनको डॉगी पोज़िशन में रखा और पीछे से उनकी चूत में लंड डालने लगा और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा, वो ज़ोर ज़ोर से आहें भरने लगी आअहह. उउउहह. पूरे कमरे में हमारी चुदाई की आवाज़ गूँज रही थी और मैं ज़ोर ज़ोर से उसकी चूत को चोदे जा रहा था।

    करीब 15 मिनट चोदने के बाद वो 2 बार अपनी चूत का पानी निकाल चुकी थी तो मैंने उनको कहा की मेरा निकलने वाला है तो उसने कहा मेरे अंदर ही डाल दो तो मैंने भी ज़ोर जोर से धक्के लगाये और मेरा पानी उनकी चूत में छोड़ दिया, फिर थोड़ी देर ऐसे ही रहने के बाद मैं लेट गया और वो मेरे ऊपर आकर मुझे किस करने लगी और मेरे लंड को चूसकर साफ कर दिया, मैं तो उनका दीवाना हो गया था फिर जब भी हमें मौका मिलता तो हम दोनो खूब एंजाय करते है।

    धन्यवाद कामलीला डॉट कॉम के प्यारे पाठकों !!
     
Loading...

Share This Page