गोरे लंड से बुआ की बेटी को चोदा

Discussion in 'Hindi Sex Stories' started by 007, Jan 9, 2018.

  1. 007

    007 Administrator Staff Member

    Joined:
    Aug 28, 2013
    Messages:
    138,786
    Likes Received:
    2,160
    http://raredesi.com गोरे लंड से बुआ की बेटी को चोदा

    Gore lund sex bua ki beti ko choda:

    loading...

    incest kahani हेल्लो दोस्तों मेरा नाम आर्यन है और मैं कोलकाता के पास एक छोटा शहर पड़ता है वहां का हूँ | दोस्तों मैं भी आप लोगो की तरह फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज पर कहानियां पढता आ रहा हूँ और मैं जो अभी तक कहानी पढ़ी है उन कहानियों से मैंने बहुत कुछ सिखा है | मैं भी आज आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ और मैं जो आज कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरे जीवन की एक सच्ची कहानी है | इस कहानी में मैंने अपनी बुआ की लड़की की चुदाई अपने गोरे लंड से की थी | मैं अपनी कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बताना चाहता हूँ | मैं दिखने में बहुत स्मार्ट हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है | दोस्तों मैं इतना गोरा हूँ की लड़कियां मुझ पर मरती है और मेरे जिस्म की तरह ही मेरा लंड भी बहुत गोरा है | कहानी शुरू करने से पहले आप लोगो को बता दूँ की ये मेरी पहली कहानी है तो मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को पसंद आये | आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आती है तो मेरा कहानी को लिखना बेकार नही जायेगा |

    फ्रेंड्स ये कहानी पिछले साल की है जब मैं 21 साल का था और इससे पहले भी मैंने बहुत सारी लड़कियों की चुदाई की है | मैंने तो बहुत लड़कियों की सील भी तोड़ी है और दोस्त जब लड़कियों की सील टूटती है जोओ वो बहुत जोर जोर से सिसकियाँ लेती है और पुरे बिस्तर पर इधर उधर घुमने लगती है | कुछ लड़कियों के मुंह से तो दर्द की वजह से आवाज भी नही निकलती है | पर मैं अभी तक जिन लड़कियों की सील तोड़ी है उसमे से ज्यादा तर तो सील टूटने पर मछली की तरह तडपी है | फ्रेंड्स मैंने जब कभी अपनी बुआ के घर जाता था तो अपनी बुआ की लड़की को देख कर पागल हो जाता था | वो दिखने में बहुत गोरी है और वो मुझसे एक साल छोटी है | मुझे तो नही पता पर मेरी बुआ ऐसा ही बोलती है | उसका नाम सीमा है | उसका फिगर बहुत सेक्सी है और उसका भरा हुआ बदन देखकर मेरे मुंह में पानी आ जाता था | उसके बड़े बड़े बूब्स और उसकी चढ़ती जवानी देखर मेरे अन्दर आग लग जाती थी | जब वो चलती थी तो उसकी बलखाती कमर जो नागिन की तरह चलती थी | उसको देखकर मेरा लंड खड़ा हो जाता था | मैं बहुत बार तो उसके नाम से मुठ भी मारी क्यूंकि जब मैं उसको देख लेता था तो मैं अपने आप पर कंट्रोल नही कर पता था | जब वो मुझे देखती थी तो उसकी चल बदल जाती थी |

    एक टाइम की बात है मुझे कुछ काम से बुआ के घर जाना था तो मैं उस दिन बुआ के घर चला गया | मैं उसको अब पुरे 5 महीने बाद देख रहा था | वो अब तो उससे ज्यादा सेक्सी लगने लगी थी | उसकी वो नशीली आँखों जिनको देख कर मेरा मन डूबने का होता | अब वो पहले से भी ज्यादा मस्त माल लगाने लगी थी और जब वो अपने बालो को बिखरा लेती तो और भी ज्यादा मस्त लगती थी | पर मुझे नही पता था वो ये सब मुझे दिखाने के लिए करती है | जब मैं उसको देखता तो वो मुझे देखकर बहुत सेक्सी स्माइल देती मैं तो उसकी स्माइल पर फ़िदा था | मैं पहले दिन ही लगा की वो मुझे पसंद करती है | फ्रेंड्स सर्दी के दिन थे तो सब बुआ तो फूफा जी के साथ लेट गयी और मुझसे कहा की तुम सीमा के रूम में सो जाओ बाहर लेटोगे तो सर्दी लग जाएगी | तब मैं उसके रूम में एक ही बेड पर लेट गया | फ्रेंड्स मुझे नही पता था की वो सर्दी में भी कपडे निकाल कर सोती है | मैं उसके पास जाकर लेट गया और वो मुझे देखकर चुप चाप लेट गयी | मैं और वो एक साथ एक ही बेड पर लेटे थे और वो कुछ देर तक ऐसे ही लेती रही | फिर वो मेरी तरफ मुंह करके लेट गयी और मुझे कुछ देर तक ऐसे ही बात करते हुए सो गयी | मैं जब उसके पास लेटा था तो मेरा मन हो रहा था की इसकी जवानी के मज़े अभी लूट लूं पर मैं उसकी हाँ का इंतजार कर रहा था | फिर मैं भी सो गया और जब मैं सुबह सो के उठा तो देखा की सब लोग उठ गए हैं |

    मैं भी उठ गया और फ्रेस हुआ फिर नाश्ता करने के लिए टेबल पर बैठ गया | मैं जहाँ बैठा था वहीँ के पास वाली कुर्सी पर सीमा आकर बैठ गयी | जब सीमा मेरे पास आकर बैठ गयी तो मैं उसके तरफ देखने लगा | तब वो मेरी आँखों में आंखे डाल कर देखने लगी और हँसती हुई मेरी होठो पर एक छोटी सी किस कर दी और बोली तुम भी न कितने भोलो हो | मैं तुम्हे इतने दिनों से पसंद करती हूँ पर तुम कहते ही नही हो | मैं और सीमा बात कर ही रहे थे की तब तक फूफा जी आ गये | जब वो आ गए तो कुछ देर बाद बुआ भी नाश्ता लेकर आ गयी और फिर हम लोग नाश्ता करने लगे | जब सब लोग नाश्ता करने लगे तो मैं भी नाश्ता करने लगा | मुझे आज ही घर भी जाना था और जब मैं जान गया था की वो मुझसे प्यार करती हो तो मेरा अब बिना चुदाई किये जाने का मन नही हो रहा था | फिर मैं कमरे में जाकर लेट गया और जब फूफा जी काम पर चले गए | तब बुआ काम में बिजी थी और वो कमरे में आ गयी और मुझसे लिपट गयी | जब वो मुझसे लिपटी हुई थी तो उसके मस्त बड़े बूब्स बीच में दब रहे थे | मैं भी उसको चूमने लगा और वो मुझे चूमने लगी हम दोनों ऐसे ही 5 मिनट तक करते रहे | फिर मैं उसके बाद अपने घर चला आया | उसके कुछ दिन बाद की बात है जब सीमा और बुआ मेरे घर आई थी | उस दिन मेरी छोटी बहन का जन्मदिन था | उस दिन कभी लोग घर आये हुए थे और उस टाइम भी हल्की हल्की सर्दी पड़ रही थी | इसलिए सब लोग कमरे में लेट गए और कुछ लोग घर में लेट गए अभी मैं और सीमा मेरे घर के लोग नही सोये थे | तब सीमा ने बुआ से कहा मैं जाकर आर्यन के कमरे में सो जाती हूँ और कहीं जगह भी नही है | तब बुआ ने कहा ठीक है तुम वहां सो जाओ और फिर पहले वो जाके लेट गयी | मुझे तो पता ही था की वो मेरे कमरे में लेटी है | फिर मैंने मम्मी से कहा की मैं कहाँ लेट जाऊ तो मम्मी ने कहा तू अपने कमरे में जाकर लेट जा | तब मैंने कहा की कमरे में सीमा लेती है तो बुआ बोली तू भी लेट जा की एक बेड पर नही लेट पाओगे |

    फ्रेंड्स में तो बुआ के कहने का इंतजार ही कर रहा था | जब बुआ ने मुझे ये बात कहीं तो मैं बिना किसी सवाल के जाकर लेट गया | फिर मैं और सीमा कुछ देर तक एक दुसरे से बात करते रहे और खेलते रहे | फिर मैं और वो एक दुसरे से लिपट कर लेट गए | जब मैं उससे लिपट कर लेटा था तो उसके मस्त चिकने बूब्स दब रहे थे | कुछ देर तक लेटने के बाद मैं उसकी होठो को अपनी ऊँगली से सहलाने लगा | जब मैं उसकी होठो को सहलाने लगा तो वो मेरी आँखों में आंखे डाल कर देखने लगी और मेरी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगी | मैं उसकी होठो को चूसने लगा और वो मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ उसकी ब्रा को खोल कर उसके बूब्स को दबाने लगा | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ उसकी पैंटी में हाथ को डाल कर उसकी चूत को सहलाने लगा | मैं जब उसकी चूत को सहला रहा था तो उसकी चूत की गर्मी से मेरा लंड झटके मारने लगा | मैं उसकी चूत को सहलाने के साथ उसकी चूत में ऊँगली घुसा दी तो उसकी सांसे तेज हो गयी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक ऊँगली को अन्दर बाहर करने के बाद | अपने कपडे निकाल दिए और फ्रेंड्स मुझे चूत चाटना और लंड चुसाना नही पसंद है | तब मैंने अपने लंड के मुंह पर थूक लगा कर उसकी चूत में थूक लगाया | फिर उसकी चूत में घुसा दिया | मेरा मोटा और लम्बा लंड जैसे ही उसकी चूत में घुसा तो उसके मुंह से सेक्सी आवाजे निकल गयी | मैं उसकी चूत में लंड को घुसा कर धीरे धीरे अन्दर बहर करते हुए चोदने लगा | वो अहं अहं अह उई उई हाँ हाँ उई... सी उई हाँ सी उई हाँ अह उई अह हाँ... की आवाजे करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी ये आवाजे सुनकर धक्को की स्पीड तेज करदी और जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा | मैं उसकी चूत में जोर जोर से धक्के मारने लगा और वो मेरे हर धक्के का मज़ा लेती हुई चुद रही थी और साथ में सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उसको जोरदार धक्को के साथ ऐसे ही 15 मिनट तक चोदता रहा और वो मज़े लती हुई चूत को हिला हिला कर चुदती रही |

    फिर मैं अपने लंड को उसकी चूत से निकाल कर उसकी चूत के ऊपर अपना माल निकाल दिया | फिर मैंने अपने कपडे पहन लिए और वो तो बिना कपडे पहन कर ही सोती थी | फिर सुबह सबसे पहले उठ कर कपडे पहन लेती थी | वो घर में सबसे पहले उठ जाती थी |

    फ्रेंड्स ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | धन्यवाद....
     
Loading...

Share This Page